मैं हमेशा उसकी फ़िक्र करता रहा और वो दुनिया की…

Lorem ipsum dolor sit amet,sed diam nonumy eirmod tempor invidunt ut labore et dolore magna aliquyam erat, At vero eos et accusam et justo duo dolores et ea rebum. Lorem ipsum dolor sit amet, no sea takimata sanctus est Lorem ipsum dolor sit amet. Stet clita kasd gubergren, no sea takimata sanctus est Lorem ipsum dolor sit amet. no sea takimata sanctus est Lorem ipsum dolor sit amet. no sea takimata sanctus est Lorem ipsum dolor sit amet. sed diam voluptua.

sad shayari

sad shayari

मैं हमेशा उसकी फ़िक्र करता रहा और वो दुनिया की😟😢

हर तरह से तेरा ख्याल भुलाया पर हुआ ये हर ख्याल से तेरा एक नया ख्याल याद आया…😟💔😢

बदलता वक़्त देखा है मैंने,अपने ही हमदर्द को अपना दर्द बनते देखा है मैंने 💔 💔

तुमसे मोहब्बत करने का गुनाह किया था तुमने तो पल -पल मरने की सज़ा दे दी 😢😢

बात करे तो लगता है सिर्फ मेरी है,और अगर ना करे तो लगता है जैसे जानती ही नहीं 😟💔😢

जब भी थोड़ा वक़्त मिले बात कर लिया करो, धड़कनों का क्या भरोसा कब धड़कना बंद कर दे 💔💔

जुदा होते वक़्त उसने बहुत से ऐब गिनाए मेरे, सोच रहा हूँ जब मिला था उससे, तब क्या गुण थे मेरे में 😟😟

आज मैंने उसे तलाशा अपने आप में, वो हर जगह मिला सिवाए तक़दीर के 😢😢

सब मुझे ही कहते हैं उसे छोड़ दो,कोई उसे क्यों नहीं कहता कि वो मेरा हो जाए 😟💔

1 thought on “मैं हमेशा उसकी फ़िक्र करता रहा और वो दुनिया की…

  1. An interesting discussion is definitely worth comment.
    I do believe that you ought to write more on this
    subject, it may not be a taboo subject but usually folks don’t talk about these subjects.
    To the next! Many thanks!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *